Panchwa Kalma in Hindi | पाँचवा कलमा इस्तिगफार हिंदी में- Astaghfar Kalma

आज हम जानेंगे पाँचवा कलमा इस्तिगफार हिंदी में (Panchwa Kalma in Hindi). साथ मे ही जानेंगे पांचवे कलमे का अर्थ और उसे पढ़ने के कुछ फायदे (Meaning and Benefits), तब चलिए शुरू करते हैं Panchva Kalma Astaghfar.


Panchwa Kalma in Hindi


Panchwa Kalma in Hindi


  • अस्तपाल-फिरुल्ला-ह रब्बी मिन कुल्लि जाम्बिन-
  • अज-नब-तुहु अ-म-द-न अव् ख-त-अनिर्रण औ-
  • अलानित्यव् व अत्तुवुहि मिनज-जम्बिल-
  • लजी ला अ-अलुम इन्-न-क अन्-त अल्लामुल-
  • गुबु व् सत्तारुल उवुबी व गफ्फा-
  • रुज्जुनुबी वाला हो-ल वला कुव-व-त-
  • इल्ला बिल्लाहिल अलियिल अजीम।

पाँचवा कलमा इस्तिगफार हिंदी में (Astaghfar Kalma Tarjuma)-


मैं उससे जो इस पूरी दुनिया का परवरदिगार है, उससे अपने सभी प्रकार के गुनाहों की माफी मांगता हूँ। जो भी मुझसे गलती से या मैने जानबूझकर किये। या तो मैंने चुप चाप किये, या मुझे करने पड़े। और मैं तौबा करता हूँ,

उन गुनाहों की जिन्हें मैं जानता हूँ, या जिन्हें मैं जानता भी नहीं अर्थात जो गुनाह मुझसे गलती से हुए। ऐ खुदा तू तो सब कुछ जनता है, और सभी के गुनाहों को माफ कर देता है। हम सब तेरी ही सन्तान हैं, हमारे द्वारा किये गए सभी गुनाहों को माफ करना, मैं सारे गुनाहों की माफी मांगने चाहता हूं, उस खुदा से जो बहुत ही महरबान और बुलंद है।

अगर आप अपने द्वारा किये गए किसी भी गुनाह जो जानबूझकर हुआ या आपसे गलती से हो गया, की माफी खुदा से मांगना चाहते हैं, तब आपको इस पांचवे कलमे इस्तिगफार (Panchwa Kalma in Hindi) को पढ़ते समय इसका अर्थ भी पता होना जरूरी है, जिससे खुदा आपके गुनाहों को माफ कर देगा।

यह भी पढ़ें- पहला कलमा 

यह भी पढ़ें- दूसरा कलमा


पांचवा कलमा (Pancham Kalma) क्या है?


Panchwa Kalma Astaghfar


क़ुरान में कल्मव कई संख्या 5 है, और सभी कलमे अपने मे ही बहुत महत्वपूर्ण हैं, उन्हीं में से एक है, पांचवा कलमा जिसे कलमा ए इस्तिगफार के नाम से भी जाना जाता है।

इस कलमे (Panchwa Kalma Astaghfar) में खुदा से अपने गुनाहों की माफी मांगने के बारे में बताया गया है, और यह कलमा उन लोगों के लिए बहुत खास है, और उन्हें रोजाना पढ़ना चाहिए जो अपने द्वारा किये गए गुनाहों की माफी खुदा से मांगना चाहते हैं। माना जाता है, रोजाना इस कलमे इस्तिगफार को पढ़ने से खुदा पढ़ने वाले के गुनाह बक्श देता है।


पांचवें कलमे इस्तिगफार (Panchwa Kalma) को कब पढ़ें?


ज्यादातर लोगों का कहना है, अगर आप मानते हैं, की आपके द्वारा जानबूझकर या गलती से कोई गुनाह हो गया है, और आप उस गुनाह की माफी खुदा से मांगना चाहते हैं, तब पांचवे कलमे को सुबह ब वजू कर नमाज़ के बाद पढ़े। इससे खुदा आपको बख्शेगा, और नेकी की राह में चलाएगा।

यह भी पढ़ें- तीसरा कलमा

यह भी पढ़ें- चौथा कलमा


पाँचवे कलमे को पढ़ने के फायदे (Benefits of 5th Kalma in Hindi)-


5th Kalma in Hindi-पाँचवा कलमा इस्तिगफार हिंदी में


पांचवें कलमे इस्तिगफ़ार को पढ़ने के बहुत सारे फायदे हैं, जो खुदा इसे पढ़ने वाले को अता फरमाता है, पाचवे कलमे से होने वाले कुछ मुख्य फायदे नीचे लिखे गए हैं-

1. माना जाता है, की अगर पाँचवे कलमे इस्तिगफ़ार (Panchwa Kalma in Hindi) को सही तरीके से पढ़ा जाए, तब खुदा हमारे द्वारा किये गए सारे गुनाह (चाहें वे जानबूझकर किये गए हों, या गलती से हो गए हों) उन्हें माफ कर देता है।

2. पाँचवे कलमे इस्तिगफार को रोजाना सुबह की नमाज़ के बाद पढ़ने से गुनाह माफ करने के बाद खुदा हमे बुरे कामों और बुरे लोगों से बचाने की कोशिश करते हैं, जिससे हमसे जाने अनजाने में कोई अन्य गुनाह न हो जाए।

3. खुदा हमे अच्छे लोगों के साथ रखने की कोशिश करता है, और हमे नेकी की राह प्रदर्शित करता है, अर्थात चलता है।

4. पाँचवे कलमे इस्तिगफार (Panchwa Kalma Astaghfar) को रोजाना सुबह की नमाज़ के बाद दिन भर ऊर्जावान जाता है, और दिन भर शरीर मे एक अलग ही प्रकार की ऊर्जा का वाहन होता है।

5. घर मे बरक्कत आती है, और पढ़ाई या काम मे मन लगने लगे जाता है, जिससे तरक्की होती है।

6. कलमा ए इस्तिगफ़ार को पढ़ने से बिगड़े हुए काम एक एक कर बनने लगे जाते हैं, जिससे घर मे हमेशा खुशियों का माहौल होता है। इसलिए हमें रोजाना पाँचवे कलमे इस्तिगफ़ार को पढ़ना चाहिए।

7. इस पाँचवे (Panchwa Kalma Hindi Mai) कलमे इस्तिगफ़ार को पढ़ने से स्वास्थ्य ठीक बने रहता है, और किसी भी काम मे मन लगता है।

पाँचवे कलमे को पढ़ने के और भी कई सारे फायदे हैं, जो खुदा उन्हें अता करता है, जो लोग अपने गुनाहों की माफी मांगने के लिए रोजाना इसे बा वजू होकर सुबह की नमाज़ के बाद पढ़ते हैं,

तब अगर आप भी आज तक इस पाचवे कलमे को नही पढ़ रहे थे, तो आज से ही शुरू कीजिए इस्तिगफार कलमे (Panchva Kalma) को पढ़ना और देखिए कैसे आपके जीवन मे परिवर्तन आते हैं। और खुदा कैसे आपके गुनाहों को बख्शता है।


Conclusion | Panchwa Kalma Hindi Mai


आज आपने जाना पाँचवा कलमा ए इस्तिगफार (Panchwa Kalma in Hindi). और साथ ही में जाना इस कलमे का अर्थ और इसे रोजाना पढ़ने के बहुत से फायदे (Kalma Astaghfar Meaning and Benefits)

आशा करते हैं, आपको आज की हमारी यह 5th Kalma in Hindi पोस्ट पसन्द आई होगी, और इससे बहुत कुछ नया सींखने को भी मिला होगा। इस प्रकार की अन्य रोचक और जानकारीपूर्ण पोस्ट पढ़ने के लिए बने रहिए हमारे साथ और विजिट करते रहिए aayatsays पर।

Leave a Reply

Your email address will not be published.